education

Just another Jagranjunction Blogs weblog

7 Posts

1 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 25903 postid : 1352931

कमाई के मामले में बाहुबली को भी पछाड़ दिया है साउथ की इस फिल्म ने

Posted On: 14 Sep, 2017 मस्ती मालगाड़ी में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

‘बाहुबली’ भारत की सबसे ज़्यादा कमाई करने वाली फिल्म है. साउथ की फिल्म इंडस्ट्री की होने के बावजूद इतनी पॉपुलर हुई कि तमिल, तेलुगु, हिंदी, और अंग्रेजी समेत कई भाषाओं में भी रिलीज़ हुई. लेकिन एक फिल्म आई है जिसने ‘बाहुबली’ का भी रिकॉर्ड तोड़ दिया है. विवेगम नाम है फिल्म का. 24 अगस्त को सिनेमाघरों में लगी है और साउथ के सुपरस्टार अजीत इस फिल्म में लीड रोल में हैं.

महज़ 2 हफ़्तों में तोड़ दिया बाहुबली का ये रिकॉर्ड

यहां बात ऑलटाइम या ग्रॉस कलेक्शन की नहीं हो रही. सिर्फ चेन्नई के बॉक्स-ऑफिस कलेक्शन में विवेगम ने बाहुबली को पछाड़ा है.  ‘बाहुबली-2’ ने जहां पहले दो हफ़्तों में 8.25 करोड़ का कारोबार किया था, वहीं ‘विवेगम’ ने चेन्नई में  8.50 करोड़ का कलेक्शन किया है. इतना ही नहीं इस फिल्म ने अपनी रिलीज़ के पहले ही दिन रजनीकांत की फिल्म ‘कबाली’ के रिकॉर्ड की भी बराबरी कर ली थी. ‘कबाली’ ने अपनी रिलीज़ के पहले दिन चेन्नई में 1.20 करोड़ रुपए कमाए थे जबकि ‘विवेगम’ का भी चेन्नई का फर्स्ट डे कलेक्शन ‘कबाली’ के बराबर ही था.

‘विवेगम’ के एक सीन में अजीत और ‘बाहुबली’ में प्रभास.

‘विवेगम’ श्रीलंका में भी खासी पसंद की जा रही है. फैंस द्वारा सोशल मीडिया पर इसे श्रीलंका में सबसे बड़ी ओपनिंग पाने वाली साउथ इंडियन फिल्म बताया जा रहा है. जबकि यूएस में इस फिल्म ने पहले ही दिन 1.38 करोड़ की कमाई की है. दुनियाभर में 3000 स्क्रीन्स पर रिलीज़ हुई इस फिल्म ने रविवार तक 150 करोड़ तक का कलेक्शन कर लिया था. जुलाई से जीएसटी लागू होने के बाद ‘विवेगम’ साउथ की पहली फिल्म है जिसने 100 करोड़ का आंकड़ा पार किया है. इसके पहले साउथ में सिनेमाघरों की हालत खासी पतली हो गई थी, लेकिन इस फिल्म ने काफी हद तक भरपाई कर दी है.

क्या है ‘विवेगम’ की कहानी

ये फिल्म एक स्पाई थ्रिलर फिल्म है. इसमें अजीत ने इंटरपोल ऑफिसर की भूमिका निभाई है. फिल्म में आतंकवादी गतिविधियों पर नज़र रखने और उनसे निपटने के लिए एक एलीट काउंटर टेररिज्म स्क्वाड बनाया गया है. इसी का एक पूर्व सदस्य बागी हो जाता है, जो इस ग्रुप की समस्याओं को बढ़ा देता है. बस उसी धर-पकड़ के बीच की कहानी है ‘विवेगम’ जिसमें बेशक अजीत लीड किरदार में हैं, विवेक ओबरॉय, काजल अग्रवाल और अक्षरा हसन भी अहम किरदारों में हैं. डायरेक्टर सिरुथाई सिवा के साथ अजीत की ये तीसरी फिल्म है. इससे पहले दोनों ने ‘वीरम’ और ‘वेदालम’ में साथ काम किया है.

फिल्म ‘विवेगम’ का पोस्टर.

अजीत का स्टारडम

इस फिल्म को समीक्षकों ने बिलकुल पसंद नहीं किया और स्टोरी लाइन को सिरे से खारिज़ कर दिया. बावजूद इसके ये फिल्म रिकॉर्ड तोड़ कमाई कर रही है. इस फिल्म की स्टोरी कमजोर होने के बावजूद इस फिल्म के हिट होने की एकमात्र वजह हैं अजीत. इनको साउथ में लोग प्यार से ‘थाला’ बुलाते हैं, ठीक वैसे ही जैसे रजनीकांत को ‘थलैवा’. अजीत साउथ में रजनीकांत के बाद सबसे पॉपुलर एक्टर हैं. अजीत पिछले 25 सालों से लगातार फिल्मों में काम कर रहे हैं.

रजनीकांत के साथ अजीत.

अजीत की बतौर लीड एक्टर पहली फिल्म 1993 में आई थी. नाम था ‘अमरावती’ जिसे फिल्म समीक्षकों और दर्शकों दोनों का ही प्यार मिला. लेकिन कमाल की बात ये कि अजीत बचपन से ही कार रेसर बनना चाहते थे. वो अपनी कार के मेंटेनेंस के लिए पैसे जुगाड़ते थे. लेकिन फिर उसी दौरान उन्हें फिल्म में काम मिल गया और इससे कमाई भी करने लगे. अजीत ने 2004 में फॉर्म्युला-3 रेसिंग टूर्नामेंट में बतौर रेसर हिस्सा भी लिया था.

अपनी रेसिंग कार में अजीत.

अजीत के लिए फ़िल्में बस पैसा कमाकर अपने कार रेसिंग के पैशन को जिंदा रखने का जरिया था. करियर के शुरुआती दौर में ही एक रेस के दौरान उनका एक्सिडेंट हो गया, जिसके बाद उन्होंने बस शौकिया रेसिंग ज़ारी रखी. जब अजीत फिल्मों के लिए सीरियस हुए तब तक वो 2-4 फिल्मों में काम कर चुके थे. लेकिन अब उन्होंने एक्टिंग को गंभीरता और करियर के रूप में लेना शुरू कर दिया. उन्हें फ़िल्में मिलने लगीं. ‘कढ़ल कोट्टाइ’, ‘अवल वारुवल’, ‘ढिना’, ‘विलेन’, ‘अमर्कलम’ जैसी कई हिट फ़िल्में दीं. मगर पॉपुलर  हुए 1998 में आई मसाला फिल्म ‘कढ़ल मन्नन’ से. इसके बाद अजीत सुपरस्टार हो गए.

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran